नक्सलियों से दो-दो हाथ करने के लिए तैयार हैं सीआरपीएफ की महिला जवान

नक्सलियोंसेदो-दोहाथकरनेकेलिएसीआरपीएफकीमहिला-जवानपूरीतरहसेतैयारहैं.जंगलोंमेंनक्सलियोंसेलड़नेकेलिएबनाईगईसीआरपीएफकीकोबरा-बटालियनमेंअबमहिलाओंकोकमांडोकेतौरपरतैनातकरनेकीतैयारीचलरहीहै.इसबाबतखुदसीआरपीएफकेडीजीनेगुरुवारकोराजधानीदिल्लीमेंइसबातकाऐलानकिया.

गुरूवारकोदेशकेसबसेबड़ेकेंद्रीयपुलिसबल,सीआरपीएफ(सेंट्रलरिजर्वपुलिसफोर्स)कीसालानाप्रेसकॉन्फ्रेंसमेंमीडियाकोसंबोधितकरतेहुएमहानिदेशक,डॉक्टरएपीमाहेश्वरीनेबतायाकिजल्दहीकोबरा-बटालियनमेंमहिलाओंकीनियुक्तिकीजाएगी.डीजीकेमुताबिक,सीआरपीएफकीमहिला-जवानोंनेहीइसकेलिएआग्रहकियाहै.अभीसीआरपीएफमेंछहमहिलाबटालियनहैं.

क्योंकि,जंगल-वॉरफेयरकेलिएखासतौरसेखड़ीकीगईसीआरपीएफकीकोबरा(सीओबीआरएयानिकमांडोबटालियनफॉररेज़ोलियूटएक्शन)फोर्समेंअभीतकपुरूष-कमांडोहीहैं.कोबराबटालियनकोजंगलोंमेंनक्सलियोंकेखिलाफलड़नेमेंमहारतहासिलहै.ऐसेमेंसीआरपीएफकीमहिलाजवानकमांडोबनकरकोबराबटालियनमेंतैनातहोनाचाहतीहैं.

हालांकि,नक्सल-प्रभावितइलाकोंमेंआईईडीब्लास्टकोसीआरपीएफकेमहानिदेशकनेएकबड़ीचुनौतीबताया,लेकिनउन्होनेंजानकारीदीकिपिछलेसालयानि2020मेंएलडब्लईइलाकोंमेंकुल21माओवादियोंकोढेरकियागयाऔर569कोगिरफ्तारकियागया.इसअवधिमें340माओवादियोंनेसरेंडरभीकिया.

डीजीकेमुताबिक,एलडब्लूईयानिलेफ्ट-विंगएक्सट्रीज़मइलाकेंहोंयाफिरआंतकवाद-ग्रस्तकश्मीरघाटी,सीआरपीएफनेसेनाऔरराज्य-पुलिसकेसाथस्थितिकोनियंत्रणमेंकियाहुआहै.हालांकि,एबीपीन्यूजकेइससवालपरकिक्याअबवक्तआगयाहैकिजम्मू-कश्मीरसेआफ्सपायानिआर्मडफोर्सस्पेशलपावरएक्टकोहटादियाजाएऔरकानून-व्यवस्थाकोसीआरपीएफऔरराज्य-पुलिसकेहाथोंमेंदेदेनाचाहिए,डॉ.महेश्वरीनेकहाकिआफ्सपापरतोवेकुछनहींबोलनाचाहते,लेकिनउन्होनेंभरोसादिलायाकिसीआरपीएफदेशकेकिसीभीहिस्सेमेंआंतरिक-सुरक्षाकीजिम्मेदारीबखूबीनिभानेकेलिएपूरीतरहसक्षमहै.

डीजीनेबतायाकिकश्मीरघाटीमेंपिछलेसालयानिवर्ष2020मेंसीआरपीएफनेसेनाऔरपुलिसकेसाथमिलकरअलग-अलगऑपरेशन्समें215आतंकियोंकोढेरकिया.मारेगएआतंकियोंमेंहिजबुलकमांडर,रियाजनाइकूसहितकईटॉपकमांडरशामिलहैं.इसदौरान251आतंकियोंकोगिरफ्तारकियागयाऔर08आतंकियोंनेसरेंडरकिया.पिछलेसालकश्मीरघाटीमेंकुल254एनकाउंटरयाफिरआतंकीहमलेहुए.

डीजीकेमुताबिक,इसवक्तसीआरपीएफ62वीआईपीलोगोंकीक्लोज-प्रोटेक्शनमेंतैनातहै.इनमेंगृहमंत्रीअमितशाह,बीजेपीअध्यक्ष,जेपीनड्डा,कॉन्ग्रेसअध्यक्षासोनियागांधीऔरराहुलगांधीशामिलहैं.बंगालमेंसीआरपीएफकीसुरक्षा-घेरेमेंवीआईपीगाड़ियोंपरपत्थरबाजीकोलेकरडीजीनेकहाकिउनकीजिम्मेदारीआतंरिक-घेरेकीहै(बाहरीसुरक्षाराज्य-पुलिसकेहवालेहै).

इसीदौरानगणतंत्रदिवसपरेडमेंहिस्सालेनेवालीसीआरपीएफकीटुकड़ीकोसंबोधितकरतेहुएडीजीनेकहाकिसीआरपीएफकेजवानदेशवासियोंपरेहीआश्रितहैं,ऐसेमेंदेशवासीउनसे(किसीभीखतरेसे)निपटनेकेलिएफुल-प्रूफसुरक्षाचाहतेहैं.