मौसम का बदलाव लाया डेंगू की आहट

नीतूसिंहनईदिल्ली॥मॉनसूनकेरफ्तारपकड़नेसेपहलेहीमच्छरोंकाआतंकबढ़गयाहै।पिछलेहफ्तेपड़ीहल्कीबौछारोंकेबादमच्छरोंकाप्रजननतेजीसेबढ़ाहै।इससालमेंअबतकदर्जहुएडेंगूमच्छरोंकेप्रजननकेएकतिहाईमामलेइसीसप्ताहकेहैं।गंभीरबातयहहैकिबीमारियोंसेबचावकेलिएअबभीलोगगंभीरनहींहैं।साउथदिल्लीऔरनजफगढ़जोनकेकईपुलिसथानेऔरबड़ेसंस्थानइसकासबसेबड़ाउदाहरणहैं।एमसीडीकीरिपोर्टकेमुताबिक,इससालअबतक18000जगहोंपरमच्छरोंकाप्रजननमिलाहै।इनमेंसे3776मामलेअकेलेपिछलेसप्ताहकेहैं।मच्छरोंकाप्रजननमिलनेकेमामलेमेंअबतक969लोगोंकाचालानकियागयाहै,जिनमेंसे288पिछलेसप्ताहकेहैं।सबसेज्यादामच्छरोंकाप्रजननसाउथऔरनजफगढ़जोनमेंमिलरहाहै।कईबारनोटिसजारीकरनेकेबावजूदइनइलाकोंकेकईथानोंऔरबड़ेसंस्थानोंमेंप्रजननकासिलसिलाजारीहै।एमसीडीकेमुख्यस्वास्थ्यअधिकारीडॉ.एन.के.यादवकाकहनाहैकिइसबारअबतकडेंगूकेसिर्फपांचमामलेदर्जहुएहैं,लेकिनजिसतरहसेएडीजमच्छरोंकाप्रजननबढ़रहाहै,ऐसेमेंआनेवालेदिनोंमेंबीमारीकाअसरतेजीसेबढ़ेगा।ऐसेमेंज्यादासावधानीबरतनेकीजरूरतहै।उनकाकहनाहैकिइसबारमलेरियाकाअसरपिछलेसालोंकेमुकाबलेज्यादादिखरहाहै।अबतकबीमारीके53मामलेदर्जहुएहैं,जबकिपिछलेसालइनकीसंख्या13थी।डॉ.यादवकाकहनाहैकिबीमारीकीरोकथामकेबारेमेंलोगोंकोजागरूककरनेकेलिएएमसीडीहरस्तरपरप्रयासकररहीहै।डेंगू,मलेरियाकेजांचऔरइलाजकेलिएभीसंसाधनपर्याप्तहैं।10बड़ेसरकारीअस्पतालोंमेंडेंगूकेलिएएनएस1एलाइजाटेस्टकिटउपलब्धकरादिएगएहैं।बाकीअस्पतालोंकोभीनैशनलवायरोलॉजीपुणेसेयहकिटसीधेमंगानेकानिर्देशदेदियागयाहै।इसटेस्टकारिजल्टकुछघंटोंमेंआजाताहै,जिससेडेंगूकीपुष्टितुरंतहोजातीहैऔरमरीजकासमयपरसहीइलाजशुरूहोजाताहै,लेकिनजहांतकबीमारियोंकीरोकथामकीबातहैतोयहलोगोंकीसतर्कतासेहीसंभवहै।