लैंडर ‘विक्रम’ का जमीनी स्टेशन से संपर्क टूटा, प्रधानमंत्री ने कहा: जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं

बेंगलुरु,सातसितंबर(भाषा)‘चंद्रयान-2’केलैंडर‘विक्रम’काचांदपरउतरतेसमयजमीनीस्टेशनसेसंपर्कटूटगया।सपंर्कतबटूटाजबलैंडरचांदकीसतहसे2.1किलोमीटरकीऊंचाईपरथा।प्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेलैंडरकासंपर्कटूटजानेकेबादइसरोकेवैज्ञानिकोंसेकहा,‘‘देशकोआपपरगर्वहै।सर्वश्रेष्ठकेलिएउम्मीदकरें।हौसलारखें।जीवनमेंउतार-चढ़ावआतेरहतेहैं।यहकोईछोटीउपलब्धिनहींहै।’’मोदीसंबंधितघटनाक्रमकेमद्देनजरआजसुबहआठबजेराष्ट्रकोसंबोधितकरेंगे।भारतीयअंतरिक्षअनुसंधानसंगठन(इसरो)नेट्वीटकिया,‘‘माननीयप्रधानमंत्रीश्रीनरेंद्रमोदीआज(7सितंबर2019)सुबहआठबजेइसरोकेनियंत्रणकेंद्रसेराष्ट्रकोसंबोधितकरेंगे।’’लैंडरकोरातलगभगएकबजकर38मिनटपरचांदकीसतहपरलानेकीप्रक्रियाशुरूकीगई,लेकिनचांदपरनीचेकीतरफआतेसमयचंद्रसतहसे2.1किलोमीटरकीऊंचाईपरजमीनीस्टेशनसेइसकासंपर्कटूटगया।‘विक्रम’ने‘रफब्रेकिंग’और‘फाइनब्रेकिंग’चरणोंकोसफलतापूर्वकपूराकरलिया,लेकिन‘सॉफ्टलैंडिंग’सेपहलेइसकासंपर्कधरतीपरमौजूदस्टेशनसेटूटगया।इसकेसाथहीवैज्ञानिकोंऔरदेशकेलोगोंकेचेहरेपरनिराशाकीलकीरेंछागईं।इसरोअध्यक्षके.सिवनइसदौरानकुछवैज्ञानिकोंसेगहनचर्चाकरतेदिखे।उन्होंनेघोषणाकीकि‘विक्रम’लैंडरकोचांदकीसतहकीतरफलानेकीप्रक्रियायोजनाकेअनुरूपऔरसामान्यदेखीगई,लेकिनजबयहचंद्रसतहसे2.1किलोमीटरकीऊंचाईपरथातोतभीइसकाजमीनीस्टेशनसेसंपर्कटूटगया।डेटाकाअध्ययनकियाजारहाहै।बादमेंइसरोनेकहाकिडेटाकाअध्ययनकियाजारहाहैऔरनिर्धारितसंवाददातासम्मेलनरद्दकियाजाताहै।मोदीचांदपर‘सॉफ्टलैंडिंग’कासीधानजारादेखनेकेलिएयहांस्थितइसरोकेंद्रपहुंचेथे।हालांकि,लैंडरसेसंपर्कटूटजानेकेकारण‘सॉफ्टलैंडिंग’केबारेमेंकोईसूचनानहींमिलपाई।प्रधानमंत्रीनेभारतीयअंतरिक्षअनुसंधानसंगठन(इसरो)केवैज्ञानिकोंसेकहाकिदेशकोउनपरगर्वहैऔरउन्हेंहौसलारखनाचाहिए।उन्होंनेकहा,‘‘हौसलारखें...सर्वश्रेष्ठकेलिएउम्मीदकरें।’’मोदीनेइसरोप्रमुखके.सिवनकीपीठभीथपथपाई।लैंडरसेसंपर्कटूटजानेकीघोषणासेकुछमिनटपहलेसिवननेमोदीकोइसबारेमेंजानकारीदी।मोदीनेबादमेंएकट्वीटमेंकहा,‘‘भारतकोअपनेवैज्ञानिकोंपरगर्वहै।उन्होंनेअपनासर्वश्रेष्ठदियाहैऔरभारतकोहमेशागौरवान्वितकियाहै।येक्षणहौसलारखनेकेहैंऔरहमहौसलारखेंगे।इसरोअध्यक्षनेचंद्रयान-2परअपडेटदिया।हमेंउम्मीदहैऔरहमअपनेअंतरिक्षकार्यक्रममेंकठिनपरिश्रमजारीरखेंगे।’’वहीं,‘चंद्रयान-2’केलैंडर‘विक्रम’काचांदपरउतरतेसमयजमीनीस्टेशनसेसंपर्कटूटजानेकेबीचराष्ट्रपतिरामनाथकोविन्दनेकहाकिदेशकोइसरोकेवैज्ञानिकोंपरगर्वहै।कोविन्दनेट्वीटकिया,‘‘चंद्रयान-2मिशनकेसाथइसरोकीसमूचीटीमनेअसाधारणप्रतिबद्धताऔरसाहसकाप्रदर्शनकियाहै।देशकोइसरोपरगर्वहै।’’उन्होंनेकहा,‘‘हमसभीसर्वश्रेष्ठकीउम्मीदकरतेहैं।’’वहीं,केंद्रीयगृहमंत्रीअमितशाह,वित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमण,विज्ञानऔरप्रौद्योगिकीमंत्रीहर्षवर्धनतथादिल्लीकेमुख्यमंत्रीअरविन्दकेजरीवालभीइसरोवैज्ञानिकोंसेकहाकिवेनिराशनहोंऔरउनकीउपलब्धियोंपरदेशकोगर्वहै।इसकेसाथहीकांग्रेसनेकहाकिदेशइसरोकेसाथखड़ाहैऔरउसकाप्रयासव्यर्थनहींजाएगा।कांग्रेसनेताराहुलगांधीनेइसरोवैज्ञानिकोंकीसराहनाकरतेहुएकहाकिउन्होंनेमिशनपरबेहतरीनकामकियातथाकईऔरमहत्वपूर्णएवंमहत्वाकांक्षीअंतरिक्षमिशनोंकीनींवरखीहै।गांधीनेट्वीटकिया,‘‘इसरोको‘चंद्रयान-2’मिशनपरउसकेबेहतरीनकार्यकेलिएबधाई।आपकाभावऔरसमर्पणहरभारतीयकेलिएएकप्रेरणाहै।आपकाकामव्यर्थनहींजाएगा।इसनेकईऔरमहत्वपूर्णतथामहत्वाकांक्षीभारतीयअंतरिक्षमिशनोंकीनींवरखीहै।’’कांग्रेसनेअपनेआधिकारिकट्विटरहैंडलपरकहाकिसमूचादेशइससमयइसरोकीटीमकेसाथखड़ाहै।अंतरिक्षएजेंसीकेकठिनपरिश्रमऔरप्रतिबद्धतानेदेशकोगौरवान्वितकियाहै।