Amazon के फाउंडर जेफ बेजोस की भारत यात्रा, इन वजहों से झेलना पड़ सकता है विरोध

नईदिल्ली,बिजनेसडेस्क।Amazonकेसंस्थापकJeffBezosअगलेसप्ताहभारतकीयात्रापरआनेवालेहैं,इसदौरानउन्हेंभारतीयकारोबारियोंकेप्रदर्शनकासामनाकरनापड़सकताहै।समाचारएजेंसीरायटर्सकीखबरकेमुताबिकभारतमेंहजारोंछोटेकारोबारीबेजोसकेखिलाफप्रदर्शनकीयोजनाबनारहेहैं।बेजोसकंपनीकेएककार्यक्रमऔरसरकारीअधिकारियोंकेसाथबैठककेलिएयहांआनेवालेहैं।तीनसूत्रोंनेरायटर्सकोबतायाकिबेजोसनईदिल्लीमेंअमेजनकेकार्यक्रममेंशिरकतकरेंगे।इसकार्यक्रमकालक्ष्यछोटेएवंमझोलेकारोबारियोंकोकंपनीसेजोड़नाहै।

प्रधानमंत्रीसेमिलनेकामांगाहैसमय

इसघटनाक्रमसेअवगतएकसूत्रनेबतायाकिबेजोसनेप्रधानमंत्रीऔरअन्यसरकारीअधिकारियोंसेमिलनेकासमयमांगाहै।इसबातकीउम्मीदकीजारहीहैकिउनकीइसबैठककेदौरानमुख्यरूपसेe-commerceपरचर्चाहोगी।हालांकि,बेजोसकीयात्रासेजुड़ेअन्यविवरणकेबारेमेंअधिकजानकारीनहींमिलसकीहै।Amazonसेउनकीयात्राकीपुष्टिकोलेकरपूछागयातोउसकीतरफसेअबतककोईजवाबनहींमिलाहै।प्रधानमंत्रीकार्यालयनेभीइसबारेमेंकोईटिप्पणीनहींकीहै।

300शहरोंमेंविरोधकीयोजना

करीबसातकरोड़खुदराकारोबारियोंकाप्रतिनिधित्वकरनेवालेकन्फेडरेशनऑफऑलइंडियाट्रेडर्स(CAIT)नेकहाकिवहबेजोसकीभारतयात्राकेदौरानकरीब300शहरोंमेंप्रदर्शनकरेगा।

कैटने2015सेहीऑनलाइनरिटेलकंपनियोंAmazonऔरWalmart-Flipkartकेखिलाफअभियानछेड़रखाहै।संगठनइनकंपनियोंपरभारीछूटऔरभारतकेFDIनियमोंकेउल्लंघनकाआरोपलगातेरहाहै।

हालांकि,दोनोंई-कॉमर्सकंपनियांइनआरोपोंकोखारिजकरतीरहीहैं।Amazonपूर्वमेंकहचुकीहैकिउसकेप्लेटफॉर्मसेहजारोंछोटेविक्रेताओं,कलाकारों,बुनकरोंऔरमहिलाकारोबारियोंकेलिएबिजनेसकेद्वारखुलगएहैं।हालांकि,कैटइसतर्कसेसहमतनहींहै।

कैटकेमहासचिवप्रवीणखंडेलवालनेकहा,''हमनेदिल्ली,मुंबई,कोलकाताकेसाथ-साथसभीप्रमुखशहरोंएवंछोटेशहरोंमेंजेफबेजोसकेखिलाफशांतिपूर्णरैलीनिकालनेकीयोजनाबनाईहै।हमप्रदर्शनोंमेंएकलाखकारोबारियोंकेहिस्सालेनेकीउम्मीदकररहेहैं।''